Man mai Mohan

मन में मोहन, मन में मोहन । मोहन मन में मन मोहन में।।
श्री राधे चरण रहें नयनन में । नैना श्री राधे चरणन में ।।
मन में मोहन, मन में मोहन ....
कृष्ण प्रेम में, प्रेम कृष्ण में । प्रेम कृष्ण, रज-रज, कण-कण में।।
कृष्ण प्रिया और प्रिया कृष्ण हों । हरपल मन में, अवचेतन में ।।
मन में मोहन, मन में मोहन ....
कृष्ण श्याम में श्याम कृष्ण में । श्याम कृष्ण राधे धड़कन में।।
राधे कृष्ण, प्राण जन-जन में । जन-जन जीवन मधुशूदन में।।
मन में मोहन, मन में मोहन .....
बृज कृष्णा में, कृष्णा बृज में । बृज गोपी ग्वाले - गईयन में।।
यमुना तट में, बंसी वट में । माखन चोर रूप नट-ख़ट में
मन में मोहन, मन में मोहन.....
बृज- भूमि दर्शन - अर्चन में । बरसाने में, श्री गोर्वर्धन में
नंदग्राम, गोकुल निधिवन में । जी लागे श्री वृन्दावन में
मन में मोहन, मन में मोहन....
राम श्याम मॆ, श्याम राम मॆ, राम श्याम प्रतिपल कर्मण मॆ,
धूप - छॉव मॆ, रूप- रंग मॆ, बॊध - अबॊध, हदय दपर्ण मॆ,
मन में मोहन, मन में मोहन....
कृष्ण योग में, कृष्ण भोग में । योगेश्वर मन महारास रास में।।
निर्गुण - सगुन स्वरुप रूप में । बाल स्वरुप "उदय" हो मन में।।
मन में मोहन, मन में मोहन.....

Available on www.sgnos.com singer: Sadhana Sargam
Music: Anil Sharma, Lyrics: Uday Pundhir