Sri Shakti Maa


श्री शक्ति माँ आदि भवानी, बसौ मेरे अधरन महारानी
कंठ बसौ माँ, नयन बसौ माँ , प्राणन घट अंतर्मन वासी

चित्त- बुद्धि निर्मल शीतलकर, नयन दोष तम पाप बुद्धि हर
ह्रदय कमल के सिंघासन पर, ज्योति प्रकाश रूप माँ धर

ह्रदय बसौ माँ चित्त बसौ माँ, ज्योति स्वरुप मात अविनाशी

ध्यान - पाठ - चिन्तन, मन धन सम। भक्ति-भाव अर्चन जीवन फल।।
दृश्य - अदृश्य, शब्द सनातन। तव स्वरुप दर्शन, पल प्रति-पल
ध्यान बसौ माँ, अंग बसौ माँ, सर्व स्वरुपा, घट-घट वासी

दिव्य शक्ति शिव-शिवा स्वरूपा, सृष्टि आधार ज्योति सम्पूर्णा
कर्म - पुण्य सम आदि-भवानी, शीतल-सरल, सहज अनुरूपा
आत्म बसौ माँ, प्राण बसौ माँ, "उदय" ह्रदय मंदिर की वासी

Available on www.sgnos.com singer: Vidhi Sharma
Music by: Anil Sharma Written by: Uday Pundhir